हरिद्वार। मिनी बैंक संचालक से लूट की वारदात को अंजाम देने वाले दो बाइकों पर सवार चार बदमाशों को बहादराबाद पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर गिरफ्तार किया है। जिनके पास से पुलिस ने 315 बोर के दो तमंचे, चार जिंदा कारतूस, लूट की हजारों की नगदी बरामद की है। दबोचे गये बदमाशों में दो पर सहारनपुर में पांच विभिन्न धाराओं में मुकदमें दर्ज है। लूट का मास्टर मांइड की मोटरसाइकिल रियेपर की सहारनपुर में दुकान है। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ सम्बंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया। घटना का खुलासा एसपी सिटी स्वतंत्र कुमार ने शुक्रवार को बहादराबाद थाना परिसर में पत्रकार वार्ता के दौरान किया। उन्होंने बताया कि 15 अक्टूबर को विनोद कुमार पुत्र स्व. हुकुम सिंह चौहान निवासी अतमलपुर बौगला हरिद्वार ने तहरीर देकर शिकायत की थी कि 14 अक्टूबर की रात को वह अपने पंजाब नेशनल बैंक के मिनी बैंक से वापस अपने घर पुराना पथरी पावर हाउस नहर पटरी मार्ग से लौट रहे थे। इसी दौरान दो बाइक सवार चार बदमाशों ने उसको रोक कर तमंचे की नोक पर नोटों से भरा बैंग लूट कर फरार हो गये।

पीड़ित की ओर से शुरूआत बैग में करीब सवा लाख की नगदी की बात कही गयी थी, लेकिन बाद में अपने दस्तावेजों के आधार पर लूटी गयी नगदी 55 हजार की जानकारी दी गयी थी। उन्होंने बताया कि बहादराबाद पुलिस ने तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर बदमाशों की तलाश शुरू कर दी। लुटेरों तक पहुंचने के लिए चार पुलिस टीमों का गठन किया गया। जिसमें सीआईयू टीम को भी शामिल किया गया। पुलिस टीम ने घटना स्थल के आसपास समेत 400 सीसीटीवी कैमरों को खंगाला गया। जिसके आधार पर दो बाइकों पर चार संदिग्ध देखे गये। जिनकी शिनाख्त के प्रयास करते हुए तलाश शुरू कर दी। एसपी सिटी ने बताया कि पुलिस बदमाशों की तलाश में जुटी थी। इसी दौरान पुलिस को मुखबिर से गुरूवार की देर शाम को सूचना मिली कि मिनी बैंक संचालक से लूट को अंजाम देने वाले चार बदमाशों को दो बाइकों पर कलियर से बहादराबाद की ओर पथरी पावर हाउस कांवड पटरी मार्ग से आते देखे गये हैं।

जोकि किसी वारदात को अंजाम दे सकते हैं। इस जानकारी पर बहादराबाद पुलिस ने सीआईयू टीम को अवगत कराते हुए बताये गये मार्ग पर फिलडिंग लगा कर बाइक सवार बदमाशों के पहुंचने की प्रतिक्षा करने लगे। जब दो बाइकों पर चार बदमाश आते नजर आये तो टीम ने उनको रोकने का संकेत दिया। उन्होंने बताया कि बाइक सवार बदमाश पुलिस को देखते ही बाइक को मोड़ कर वापस भागने का प्रयास करने लगे, लेकिन पुलिस और सीआईयू टीम ने बदमाशों को घेर घोट कर दबोच लिया। टीम ने बदमाशों के पास से 315 बोर के दो तमंचे, चार जिंदा कारतूस और 44, 200 की नगदी बरामद की। टीम बदमाशों के लेकर बहादराबाद थाने पहुंची।

थाने में पूछताछ के दौरान आरोपियों ने अपना नाम अक्षय पंडित पुत्र कृष्ण शर्मा निवासी इन्दिरा कॉलोनी ओझा वाली गली संजय मॉडल स्कूल के पास थाना कोतवाली सदर जनपद सहारनपुर अंकित कुमार पुत्र पाला निवासी ग्राम सन्तागढ़ शेखपुरा कदीम थाना कोतवाली देहात सहारनपुर, मोनू कुमार पुत्र हरवीर सिंह निवासी रानीपुर बाहदी थाना नकुड़ सहारनपुर हाल किरायेदार सहदेव मलिक पुत्र ओम प्रकाश निवासी इन्दिरा कॉलोनी पेपर मिल रोड थाना कोतवाली सदर सहारनपुर और सूरज पुत्र सहदेव मलिक निवासी इन्दिरा कॉलोनी पेपर मिल रोड़ थाना कोतवाली सदर जनपद सहरानपुर बताते हुए मिनी बैंक संचालक से लूट की वारदात को अंजाम देना कबूला है। लूट का मास्टर माइंड अक्षय की सहारनपुर में मोटरसाईकिल रियेपर की दुकान है। अक्षय और अंकित पर सहारनपुर में अलग-अलग धाराओं में पांच मुकदमें दर्ज है। प्रेसवार्ता के दौरान सीओ रेखा यादव, बहादराबाद एसओ नितेश शर्मा आदि मौजूद रहे।