कायराना हमलों से हिंदू समाज डरने वाला नहीं है: रविदेव आनंद

हरिद्वार उत्तराखंड

जम्मू कश्मीर में तीर्थयात्रीयों की बस पर हुए हमले की कड़ी निंदा करते हुए विहिप ने की सरकार से सख्त कार्रवाई की मांग
कायरना हमलों से हिंदू समाज डरने वाला नहीं है-रविदेव आनंद
हरिद्वार। विश्व हिंदू परिषद के प्रांत अध्यक्ष रविदेव आनंद ने जम्मू संभाग के रियासी क्षेत्र में वैष्णादेवी से शिवखोड़ी धाम के दर्शन करने जा रहे तीर्थयात्रीयों की बस पर हुए आतंकवादी हमले की कड़ी निंदा करते हुए सरकार से सख्त कार्रवाई की मांग की है। प्रैस क्लब में पत्रकारवार्ता के दौरान विहिप प्रांत अध्यक्ष रविदेव आनंद ने कहा कि इस तरह के कायरानों हमलों से हिंदू समाज डरने वाला नहीं है। बजरंग दल द्वारा निकाली जाने वाली बूढ़ा अमरनाथ यात्रा और अमरनाथ यात्रा पूरे जोश से चलेगी। उन्होंने कहा कि रियासी क्षेत्र में श्रद्धालुओं की बस पर हुए हमले के अलावा दो अन्य आतंकवादी घटनाएं भी हाल ही में घटी हैं। सरकार को पाक प्रायोजित आतंकवाद पर लगाम लगाने के लिए कठोर से कठोर कार्रवाई करनी चाहिए और आतंकवादी नेटवर्क को ध्वस्त करना चाहिए। बजरंग दल के प्रांत संयोजक अनुज वालिया ने कहा कि हिंदूओं की धार्मिक यात्रा पर हमला चिंताजनक है। सरकार को पाक को कड़ा जवाब देना चाहिए। वैष्णोदेवी जा रहे श्रद्धालुओं की बस पर हमला बजरंग दल की बूढ़ा अमरनाथ यात्रा को प्रभावित करने का प्रयास है। लेकिन इससे यात्रा कतई प्रभावित नहीं होगी और तय समय पर ही होगी। उन्होंने बताया कि अगस्त में होने वाली बूढ़ा अमरनाथ यात्रा में पूरे देश से करीब 1 लाख बजरंग दल कार्यकर्ता शामिल होंगे। जिसमें उत्तराखंड से पांच सौ कार्यकर्ता शामिल होंगे। विहिप प्रचार प्रसार विभाग के प्रांत प्रमुख पंकज चौहान ने कहा कि जम्मू कश्मीर लंबे समय से पाकिस्तान पोषित आतंकवाद की चुनौती का सामना कर रहा है। हिंदू श्रद्धालुओं पर आतंकवादियों का कायरना हमला देश की संप्रुभता को चुनौती है। जिसका पूरी ताकत से मुकाबला किया जाएगा। आतंकवादी गतिविधियों पर नियंत्रण के लिए सरकार को निर्णायक और कठोर कदम उठाते हुए आतंकवाद को प्रश्रय देने वाली ताकतों का सिर भी कुचलना चाहिए। पत्रकारवार्ता के दौरान विहिप जिलाध्यक्ष बलराम कपूर, महंत सोमनाथ महाराज सहित कई कार्यकर्ता मौजूद रहे। प्रैसवार्ता के उपरांत सिटी मजिस्ट्रेट के माध्यम से राष्ट्रपति को ज्ञापन भी प्रेषित किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *